Faculty Development Programm

एक दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम

सांदीपनी एकेडमी अछोटी दुर्ग (छ.ग )के शिक्षा विभाग के द्वारा दिनांक 16/08/2021 को “नई शिक्षा नीति में एकागम शिक्षा का समावेश” विषय पर एक दिवसीय फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में डॉ. समरेंद्र मोहन घोष (प्रबंधक निर्देशक,श्री अरबिंदो योग और ज्ञान फाउंडेशन) के द्वारा बताया गया कि नई शिक्षा नीति के अनुसार समग्र शिक्षा का समावेश बच्चों में स्कूल और कॉलेज के प्रति रुझान और मानव मस्तिष्क को विकसित करना ही शिक्षा है । मुख्य वक्ता के रूप में श्रीमती इंद्राणी घोष (ट्रस्टी श्री अरविंदो योग और ज्ञान फाउंडेशन) ने “श्री. अरविंदो” के दर्शन पर आधारित नई शिक्षा नीति के कुछ मूल धारणाओं जैसे निकटतम से दूरस्थ, शारीरिक चेतना, मानसिक चेतना एवं अध्यात्मिक पहलुओं पर गहन चर्चा की।

उन्होंने बताया कि ज्ञान सभी के अंदर निहित होता है, अतः शिक्षक का मूल कर्तव्य पढ़ाना नहीं अपितु अपने व्यक्तित्व द्वारा उनको जीवन जीने की अच्छी आदतों को अपनाने के लिए प्रभावित करना होना चाहिए। नई शिक्षा नीति द्वारा किस प्रकार आध्यात्मिकता, योग, एकाग्रता, व्यक्तित्व का विकास एवं शिक्षा का समन्वय करके परिवर्तन लाया जा सकता है , संपूर्ण जीवन योग हैं, सभी कर्म इंद्रियों पर नियंत्रण करना ही कर्म योग हैं आदि के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई । ,डॉ किरण बाला पटेल (संस्थागत सेविका श्री अरबिंदो योग ज्ञान फाउंडेशन )ने ऐकिक शिक्षा के उद्देश्यों के बारे में चर्चा करते हुए बताया की वर्तमान में किस प्रकार ग्रामीण विकास कार्यक्रम के अंतर्गत कौशल शिक्षा एवं मूल्य शिक्षा पर विशेष जोर दिया जा रहा है। शिक्षा प्रणाली के विकास के लिए फैकेल्टी डेवलपमेंट प्रोग्राम की महत्ता, शिक्षा ही राष्ट्र का मेरुदंड होता है शिक्षा का स्वरूप जैसा हो वैसा ही राष्ट्र का चरित्र निर्माण होगा, शिक्षा स्वयं करके सीखने की कला है, शिक्षा के द्वारा बच्चों में सर्वांगीण विकास किस प्रकार किया जाएं आदि विषय पर भी उन्होंने चर्चा किया। कार्यक्रम की समाप्ति की घोषणा विभागाध्यक्ष डॉक्टर संध्या पुजारी के द्वारा किया गया ।

इस कार्यक्रम को सफल बनाने में संस्था के निर्देशक श्री महेंद्र चौबे , संचालक श्री विनीत चौबे ,प्राचार्या डॉ. नाजिया अहमद, विभागाध्यक्ष डॉ. संध्या पुजारी ,मुख्य सलाहकार डॉ. आभा दुबे ,सूश्री विद्या देवी, श्री लोकेश देवांगन (सहायक अध्यापक) एवं संस्था के समस्त स्टाफ की प्रतिभागिता एवं योगदान सराहनीय रहा। नोट- इस कार्यक्रम में मंच संचालन श्रीमान विवेक गौतम (सहायक प्राध्यापक ) एवं स्वागत भाषण डॉ नाज़िया अहमद (प्राचार्या शिक्षा विभाग) द्वारा किया गया।